वॉन्टेड
जानकारी जो न्याय तक पहुंचाती है...

सामी जसीम मुहम्मद अल-जबुरी

$5 मिलियन तक पुरस्कार

सामी जसीम मुहम्मद अल-जबुरी, जिसे हाजी हामिद के नाम से भी जाना जाता है, इस्लामिक स्टेट ऑफ़ इराक एंड सीरिया (ISIS) का एक वरिष्ठ नेता है और ISIS के पूर्ववर्ती संगठन, अल-क़ायदा इन इराक (AQI) का एक लीगेसी सदस्य है। मुहम्मद अल-जबुरी ISIS के आतंकवादी अभियानों के वित्तीय प्रबंधन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता रहा है।

वर्ष 2014 में दक्षिणी मोसुल में ISIS के डिप्टी के रूप में सेवा करते हुए, उसने कथित तौर पर ISIS के वित्त मंत्री के समकक्ष के रूप में कार्य किया, जो कि तेल, गैस, पुरावशेषों और खनिजों की अवैध बिक्री से समूह के राजस्व-सृजन अभियान की निगरानी कर रहा था।

अमेरिकी डिपार्टमेंट ऑफ ट्रेजरी ने कार्यकारी आदेश (E.O.) 13224, जो आतंकवादियों और आतंकवादियों और आतंकवादी कार्यों को समर्थन प्रदान करने वालों पर वित्तीय प्रतिबंध लगाता है, के अनुसरण में उसे सितंबर 2015 में खासतौर पर वैश्विक आतंकवादी घोषित किया।

जून, 2014 में, ISIS, जिसे दाऐश के नाम से भी जाना जाता है, ने सीरिया और इराक के कुछ हिस्सों पर कब्जा कर लिया, स्वयं को तथाकथित इस्लामिक “ख़लीफ़त” घोषित किया और अल-बगदादी को “ख़लीफ़ा” नाम दिया। हाल के वर्षों में, ISIS ने दुनिया भर के जेहादी समूहों और कट्टरपंथी व्यक्तियों का विश्वास प्राप्त कर लिया है, जिन्हें दुनिया भर में हमलों के लिए प्रेरित किया।

ISIS के विरुद्ध हमारी लड़ाई में यह पुरस्कार एक महत्वपूर्ण समय है। चूंकि ISIS युद्ध के मैदान में हार गया है, हम समूह के नेताओं को पहचानने और उन्हें खोजने के प्रति दृढ़संकल्प हैं ताकि ISIS को हराने के लिए लड़ने वाले देशों का वैश्विक गठबंधन ISIS के अवशेषों को निरंतर नष्ट कर सके और इसकी वैश्विक महत्वाकांक्षाओं को विफल कर सके।

की अतिरिक्त फोटो

सामी जसीम मुहम्मद अल-जबुरी