वॉन्टेड
जानकारी जो न्याय तक पहुंचाती है...

सालिह अल-अरूरी

$5 मिलियन तक पुरस्कार

अक्टूबर 2017 में, सालिह अल-सरूरी, इज़ायद्दीन अल-कासम ब्रिगेड का एक संस्थापक, जो हमास की सैन्य शाखा है, हमास राजनीतिक ब्यूरो का उप नेता चुना गया था। अल-अरूरी वेस्ट बैंक में हमास की सैन्य कार्रवाईयों को वित्तपोषित एवं संचालित करता है और कई आतंकवादी हमलों, लूट-डकैती, और अपहरणों के साथ जोड़ा गया है। 2014 में, अल-अरूरी ने 12 जून, 2014 के आतंकवादी हमले के लिए हमास की जिम्मेदारी की घोषणा की, जिसमें वेस्ट बैंक में तीन इसरायली युवाओं को अगवा किया गया और मार डाला गया था, और जिसमें दोहरी नागरिकता वाला अमेरिकी-इसरायली नागरिक नफ़ताली फ्राएंकेल भी शामिल था। उसने सार्वजनिक तौर पर इन हत्याओं को एक “बहादुरी भरा कारनामा” बताकर इसकी प्रशंसा की थी। सितम्बर 2015 में, अमेरिकी ट्रेजरी विभाग ने कार्यकारी आदेश 13224 के तहत अल-अरूरी को एक विशेष रूप से नामित वैश्विक आतंकवादी (SDGT) के तौर पर नामित किया, एक ऐसी कार्रवाई जिससे उसकी वित्तीय सम्पत्तियों पर प्रतिबंध लगा दिये गये थे।

की अतिरिक्त फोटो

Lebanese Hizballah Poster - English
Lebanese Hizballah Poster - Arabic
Lebanese Hizballah Poster - Farsi
Lebanese Hizballah Poster - French