आतंक की क्रियाएं
इनके बारे में जानकारी ...

अपहरण और हत्याएं

लेबनान 1985 से 1989 तक

असंख्य अपहरण और हत्याएं हेज़ोबुल्लाह संबंधित आतंकवादियों द्वारा किए गए दशक लम्बे लेबनीज़ बन्धक संकटकाल के हिस्से थे। बन्धक बनाने का संकटकाल 1982 से 1992 तक रहा।

16 मार्च 1984 को आतंकवादियों ने बेरूत में CIA स्टेशन चीफ, विलियम बक्ले का अपहरण कर लिया। बक्ले की मृत्यु की अनुमानित तारीख़ से पहले उससे पूछताछ की गई, यातना दी गई और 15 महीनों तक उसे बन्दी बना कर रखा गया।

3 दिसंबर 1984, को अमेरिकन युनिवर्सिटी ऑफ बेरूतट के पुस्तकालय प्रभारी पीटर किल्बर्न के गायब होने की रिपोर्ट की गई। सोलह महीने बाद, उसकी और दो अन्य बन्दियों की गोली मार कर हत्या कर दी गई और उनके शवों को बेरूत के पूर्व के पहाड़ों पर फेंक दिया गया।

17 फरवरी 1988, को आतंकवादियों ने कर्नल विलियम हिग्गिन्स का उसके युनाइटेड नेशन्स शान्ति पालक वाहन से अपहरण कर लिया। एक बन्धक के रूप में कर्नल हिग्गिन्स से पूछताछ की गई और हत्या किए जाने से पहले उसे यातना दी गई। उसकी मृत्यु की सही सही तारीख़ अज्ञात है।

रिवॉर्ड्ज़ फॉर जस्टिस (न्याय के लिए पुरस्कार) प्रोग्राम ऐसी जानकारी के लिए $5 मिलियन तक का पुरस्कार पेश कर रहा है जिससे इन हमलों के लिए ज़िम्मेदार लोगों को कैद करके उन पर कानूनी कार्यवाही की जा सके।

शिकार

की फोटो विलयम हिगिंस 1989 में हत्या कर दी गई
विलयम हिगिंस 1989 में हत्या कर दी गई
की फोटो पीटर किलबर्न 1986 में हत्या कर दी गई
पीटर किलबर्न 1986 में हत्या कर दी गई
की फोटो विलयम बकले 1985 में हत्या कर दी गई
विलयम बकले 1985 में हत्या कर दी गई