आतंक की क्रियाएं
इनके बारे में जानकारी ...

लेबनानी हिज़बुल्लाह का वित्तीय नेटवर्क

रिवॉर्ड्स फॉर जस्टिस कार्यक्रम लेबनानी हिज़बुल्लाह की वित्तीय प्रक्रियाओं को खत्म करने के संबंध में जानकारी के लिए $10 मिलियन तक के इनाम की पेशकश कर रहा है। हिज़बुल्लाह जैसे आतंकवादी समूह अपने संचालनों को बनाए रखने और वैश्विक रूप से हमले करने के लिए फाइनैंसिंग और सहायता नेटवर्कों पर निर्भर हैं। हिज़बुल्लाह इरान से सीधे वित्तीय सहयोग, अंतर्राष्ट्रीय व्यापारों और निवेशों, दानी नेटवर्कों, भ्रष्टाचार, और मनी लांड्रिंग (हवाला) संबंधी गतिविधियों के द्वारा वार्षिक तौर पर लगभग एक अरब डॉलर हासिल करता है। समूह इस पैसे का उपयोग पूरी दुनिया में अपनी दुष्ट गतिविधियों को सहयोग करने के लिए करता है, जिनमें शामिल हैं: असाद (Assad) तानाशाही के सहयोग में सीरिया में अपनी सेना के सदस्यों की तैनाती; अमरीकी वतन में निगरानी करने और गुप्त सूचनाएं एकत्र करने के लिए कथित संचालन; और इस हद तक बढ़ी हुई सेना क्षमताएं कि हिज़बुल्लाह अचूक मिसाइलें रखने का दावा करता है। इन आतंकवादी संचालनों के लिए पैसा, वित्तीय सहयोगियों और गतिविधियों — वित्तीय तौर पर सक्षम बनाने वालों और इंफ्रास्ट्रक्चर के हिज़बुल्लाह के अंतर्राष्ट्रीय नेटवर्क द्वारा दिया जाता है, जो हिज़बुल्लाह की ज़िंदगी का आधार हैं।

हिज़बुल्लाह को ईरान से भारी मात्रा में हथियार, प्रशिक्षण और फंडिंग मिलती है, जिसे सेक्रेटरी ऑफ स्टेट ने आतंकवाद के प्रायोजक राज्य के रूप में नियत किया है। डिपार्टमेंट ऑफ स्टेट ने हिज़बुल्लाह को ई.ओ. 13224 (E.O. 13224) अक्तूबर 1997 में विदेशी आतंकवादी संगठन (एफ.टी.ओ.) (Foreign Terrorist Organization) (FTO) और अक्तूबर 2001 में विशेष रूप से नियुक्त वैश्विक आतंकवादी (एस.डी.जी.टी.) (SDGT) के तौर पर नियत किया है।

इनाम इनकी पहचान और समाप्ति के संबंध में जानकारी के लिए प्रदान किए जा सकते हैं:

  • संगठन के लिए अथवा इसकी मुख्य वित्तीय सहायता प्रक्रियाओं के लिए आय का बड़ा स्रोत;
  • बड़े हिज़बुल्लाह दाता (डोनर) और वित्तीय सहायक;
  • बड़ी हिज़बुल्लाह ट्रांजैक्शनों में जानबूझकर सहायता करने वाले वित्तीय संस्थान और एक्सचेंज हाउस;
  • हिज़बुल्लाह के स्वामित्व वाले या उसके द्वारा नियंत्रित किए जाने वाले व्यापार और निवेश;
  • दोहरी-प्रयोग वाली तकनीक की अंतर्राष्ट्रीय खरीद में शामिल जाली कंपनियां; और
  • हिज़बुल्लाह के सदस्यों और सहायकों को शामिल करने वाले आपराधिक योजनाएं, जो संगठन को वित्तीय लाभ पहुंचाते हैं।

इस समाप्ति की पैरवी में, इनाम की पेशकश इन तीन व्यक्तियों को हिज़बुल्लाह के मुख्य फाइनेंसरों और सहायकों के उदाहरणों के तौर पर उजागर करती है, जिनके बारे में यह जानकारी चाहती और जिन्हें अमेरिका कोष विभाग ने एस.डी.जी.टी. (SDGTs) के तौर पर नियत किया है:

 
Adham Husayn Tabaja

आधम हुसैन तबाजा (Adham Husayn Tabaja)

नाम:
आधम हुसैन तबाजा (Adham Husayn Tabaja)

अन्य नाम:
आधम हुसेन तबाजा; आधम तबाजा

जन्मतिथि:
24 अक्तूबर, 1967

जन्म स्थान:
कफ़ारटेबनिट 50, लेबनान (Kfartebnit 50, Lebanon)

वैकल्पिक जन्म स्थान:
कफ़ार टिब्निट, लेबनान (Kfar Tibnit, Lebanon); घोबीरी , लेबनान (Ghobeiry, Lebanon); अल घुबेराह, लेबनान (Al Ghubayrah, Lebanon)

नागरिकता:
लेबनानी

पासपोर्ट:
RL1294089 (लेबनानी)

पहचान नंबर:
00986426 (इराक)

आतंकवादी समूह:
लेबनानी हिज़बुल्लाह

व्यक्तिगत उपाधियां:
कोष एस.डी.जी.टी. (Treasury SDGT): 10 जून, 2015

आधम तबाजा, हिज़बुल्लाह का सदस्य है, जो सीनियर हिज़बुल्लाह के संगठन संबंधी लोगों से सीधे संबंध कायम करता है, आतंकवादी समूह के संचालन संबंधी तत्वों, इस्लामिक जिहाद (Islamic Jihad) सहित। तबाजा समूह की ओर से लेबनान में जायदाद भी संभालता है। वह लेबनान-आधारित रियल एस्टेट विकास और निर्माण कंपनी अल-इनमा ग्रुप फॉर टूरिज़्म वर्क्स (Al-Inmaa Group for Tourism Works) के बड़े हिस्से का मालिक है। तबाजा, अल-इनमा ग्रुप फॉर टूरिज़्म वर्क्स और इसकी सहायक कंपनियों को जून 2015 में एस.डी.जी.टी. (SDGTs) के तौर पर नियत किया गया था। सऊदी अरब की के राज्य ने भी तबाजा और उसकी कंपनियों को अपने लॉ ऑफ टैरोरिज़्म क्राइम्स एंड फाइनैंसिंग एंड रॉयल डिक्री A/44 (Law of Terrorism Crimes and Financing and Royal Decree A/44) के अंतर्गत आतंकवादी संस्थाओं के तौर पर नियत किया है। सऊदी अरब में कोई भी और संपत्तियों का इस्मेताल बंद कर दिया गया है, और राज्य के वित्तीय क्षेत्र और उनसे जुड़े किसी भी व्यावसायिक लाइसेंसों द्वारा ट्रांसफर वर्जित हैं।

  
Mohammad Ibrahim Bazzi

मोहम्मद इब्राहिम बाज़ी (Mohammad Ibrahim Bazzi)

नाम:
मोहम्मद इब्राहिम बाज़ी (Mohammad Ibrahim Bazzi)

अन्य नाम
मोहम्मद बाज़ी; मुहम्मद इब्राहिम बाज़ी; मुहम्मद बाज़ी

जन्मतिथि:
10 अगस्त, 1964

जन्म स्थान:
बेंट ज्बील, लेबनान (Bent Jbeil, Lebanon)

नागरिकता:
लेबनानी; बेल्जियन

पासपोर्ट:
EJ341406 (बेल्जियम) समाप्ति 31 मई 2017; 750249737; 899002098 (यूनाइटेड किंग्डम); 487/2007 (लेबनान); RL3400400 (लेबनान); 0236370 (सिएरा लेओन); D0000687 (द गैम्बिया)

आतंकवादी समूह:
लेबनानी हिज़बुल्लाह

व्यक्तिगत उपाधियां:
कोष एस.डी.जी.टी. (Treasury SDGT) – 17 मई, 2018

पता:
अदनान अल-हाकिम स्ट्रीट, यहाला बिल्डिंग, ज्नाह, लेबनान (Adnan Al-Hakim Street, Yahala Bldg., Jnah, Lebanon); एग्लैंटीर्लान 13-15, 2020, ऐंटवेर्पेन, बेल्जियम (Eglantierlaan 13-15, 2020, Antwerpen, Belgium); विला बाज़ी, दोहात अल-हॉस, लेबनान (Villa Bazzi, Dohat Al-Hoss, Lebanon)

मोहम्मद इब्राहिम बाज़ी एक मुख्य हिज़बुल्लाह फाइनेंसर है, जिसने अपनी व्यापारिक गतिविधियों से हासिल किए लाखों डॉलर हिज़बुल्लाह को प्रदान किए हैं। वह ग्लोबल ट्रेडिंग ग्रुप एन.वी. (Global Trading Group NV), यूरो अफ्रीकन ग्रुप लि. (Euro African Group LTD), अफ्रीका मिडल ईस्ट इन्वेस्टमेंट होल्डिंग एस.ए.एल. (Africa Middle East Investment Holding SAL), प्रीमियर इन्वेस्टमेंट ग्रुप एस.ए.एल. ऑफशोर (Premier Investment Group SAL Offshore), और कार एस्कोर्ट सर्विसिज एस.ए.एल. ऑफ शोर (Car Escort Services S.A.L. Off Shore) का मालिक है या इन्हे नियंत्रित करता है। बाज़ी और उसकी संबद्ध कंपनियों को मई 2018 में एस.डी.जी.टी. (SDGTs) के तौर पर नियत किया गया था।

  
Ali Youssef Charara

अली यूसफ चरारा (Ali Youssef Charara)

नाम:
अली यूसफ चरारा (Ali Youssef Charara)

अन्य नाम:
अली यूसफ शरारा; ‘अली युसुफ शरारा

जन्मतिथि:
25 सितम्बर, 1968

जन्म स्थान:
सिडोन, लेबनान (Sidon, Lebanon)

नागरिकता:
लेबनानी

पता:
घोबीरी सेंटर, मशराफीह, बेरुत, लेबनान (Ghobeiry Center, Mcharrafieh, Beirut, Lebanon); वर्दुन 732 सेंटर, 17th फ्लोर, वर्दुन, राचिद करामेह स्ट्रीट, बेरुत, लेबनान (Verdun 732 Center, 17th Floor, Verdun, Rachid Karameh Street, Beirut, Lebanon); अल-अहलाम, 4th फ्लोर, एम्बेसीज स्ट्रीट, बीर हसन, बेरुत, लेबनान (Al-Ahlam, 4th Floor, Embassies Street, Bir Hassan, Beirut, Lebanon);

आतंकवादी समूह:
लेबनानी हिज़बुल्लाह

व्यक्तिगत उपाधियां:
कोष एस.डी.जी.टी. (Treasury SDGT): 7 जनवरी, 2016

अली यूसफ चरारा एक मुख्य हिज़बुल्लाह फाइनेंसर होने के साथ-साथ लेबनान में स्थित दूरसंचार कंपनी स्पेकट्रम इन्वेस्टमेंट ग्रुप होल्डिंग एस.ए.एल. (Spectrum Investment Group Holding SAL) का चेयरमैन और जनरल मैनेजर भी है। चरारा ने व्यावसायिक परियोजनाओं में निवेश करने के लिए हिज़बुल्लाह से लाखों डॉलर प्राप्त किए, जो वित्तीय रूप से आतंकवादी समूह को सहयोग करते हैं। चरारा और स्पेकट्रम इन्वेस्टमेंट ग्रुप को जनवरी 2016 में एस.डी.जी.टी. (SDGTs) के तौर पर नियत किया गया था।

की अतिरिक्त फोटो

Lebanese Hizballah Financial Network Poster - English
Lebanese Hizballah Financial Network Poster - Arabic
Lebanese Hizballah Financial Network Poster - Farsi
Lebanese Hizballah Financial Network Poster - French
Lebanese Hizballah Financial Network Poster - Kurdish
Lebanese Hizballah Financial Network Poster - Portuguese
Lebanese Hizballah Financial Network Poster - Spanish