आतंक की क्रियाएं
इनके बारे में जानकारी ...

पर्यटकों पर हमला

बिंडी पार्क, युगान्डा | 1 मार्च 1999

1 मार्च 1999 को 100 इंटरहाम्बे सैनिकों के एक दल ने युगान्डा के भविन्डी इम्पैंट्रेबल नैशनल पार्क में नि:शस्त्र पर्यटकों और उनके मार्ग दर्शकों पर हमला कर दिया। इंटरहाम्बे युवा हुटु पुरुषों द्वारा निर्मित एक अर्द्धसैनिक संगठन है जिन्होंने 1994 में टुट्सियों के विरुद्ध रवान्डी जातिसंहार गतिविधियों को क्रियान्वित किया था।

भिवन्डी पार्क हमले में, अनेक पर्यटन समूहों पर हमले किए गए उन्हें बन्धक बनाया गया और डेमोक्रैटिक रिपब्लिक ऑफ कान्गो की ओर बढ़ने के लिए बाध्य किया गया। एक युगान्डी, पॉल रौस वगाबा को जिन्दा जला दिया गया। पीड़ित लोगों में से आठ को पीट पीट कर मार डाला गया जिनमें अमरीकी सूजन मिलर और रॉबर्ट हॉबनर भी शामिल थे।

हमले के दौरान पर्यटकों से बहुत सारी चीज़े चुरा ली गई जिनमें एक यू.एस. पासपोर्ट यू.एस. ड्राइवर का लाइसेंस, लेडीज सिटिजन डाइव घड़ी और टोशीबा पोर्टोगो लैपटॉप कंप्यूटर शामिल थे।

रिवॉर्ड्ज़ फॉर जस्टिस (न्याय के लिए पुरस्कार) प्रोग्राम ऐसी जानकारी के लिए $5 मिलियन तक का पुरस्कार पेश कर रहा है जिससे इस हमले के लिए ज़िम्मेदार लोगों को कैद करके उन पर कानूनी कार्यवाही की जा सके।