वॉन्टेड
जानकारी जो न्याय तक पहुंचाती है...

अली अटवा

$5 मिलियन तक पुरस्कार

ऊपर बताए गए आतंकवादी के बारे में माना जाता है कि वह आतंकवादी संगठन लेबनीज़ हिज्बल्लाह का एक सदस्य है।

14 जून 1985 को आतंकवादियों ने एथेन्स, ग्रीस से रोम, इटली की ओर जाते हुए TWA फलाइट 847 का अपहरण कर लिया। बहुत सारे स्थानों तक उड़ने के बाद, यह हवाई जहाज़ बीरुट, लेबनन में भूमि पर उतरा जहां अपहरणकर्ताओं ने यू.एस. नौसेना गोताखोर, रॉबर्ट स्टेथेम की गोली मार कर हत्या कर दी और उसके शव को हवाई अड्डे के टारमेक पर फेंक दिया।

ऊपर बताए गए आतंकवादी को 14 जून 1985 को एक व्यापारिक एयरलाइनर के अपहरण की योजना बनाने और उसमें हिस्सा लेने के लिए आरोपी ठहराया गया था। इस अपहरण के परिणाम-स्वरूप बहुत सारे यात्रियों और जहाज़ के कर्मचारियों पर हमला किया गया और एक यू.एस. नागरिक की हत्या कर दी गई।

ऊपर दिए गए व्यक्ति को निम्नलिखित दोषों के लिए अपराधी ठहराया गया है:

हवाई जहाज़ डकैती करने का, बन्धक बनाने का षड्यन्त्र, हवार्ई डकैती करने का षडयन्त्र जिसके परिणाम-स्वरूप हत्या, जहाज़ के कर्मचारियों के साथ हस्तक्षेप करना, हवाई जहाज़ पर एक विनाशकारी साधन रख देना, हवाई जहाज़ पर अपने इर्द-गिर्द विस्फोटक साधन रखना और यात्रियों एवं हवाई जहाज़ के कर्मचारियों पर हमला करना, हवाई डकैती जिसके परिणाम-स्वरूप हत्या, हवाई डकैती, बन्धक बनाना, हवाई जहाज़ पर एक खतरनाक हथियार से अपहरण करने के इरादे से हमला करना और परिणाम-स्वरूप गंभीर शारीरिक चोट पहुंचाना, सहायता करना और प्रोत्साहित करना।